असम में मुखौटे निर्माण और पांडुलिपि पेंटिंग बनाने की पारंपरिक कला को मिला जीआई टैग

34 Views
Published
असम में माजुली नदी के द्वीपों पर रहने वाले लोग सदियों से मुखौटे निर्माण और पांडुलिपि पेंटिंग बनाने की पारंपरिक कला को जिंदा रखे हुए हैं। अब उनकी इस कला को सरकारी मान्यता भी मिल गई है। खास तरह से तैयार किए गए मुखौटों और पांडुलिपि पेंटिंग को जीआई टैग मिल गया है। माजुली दुनिया का सबसे बड़ा आबाद वाला द्वीप है। #ptivideos #ptinews #gitag #gitag20204
Category
National
Be the first to comment